Facebook tagging scam फेसबुक टैगिंग स्कैम malware automatically expands through tagging



Facebook tagging scam – the malware automatically expands through tagging फेसबुक टैगिंग स्कैम-मैलवेयर टैगिंग के माध्यम से स्वत: फैलता है ।
कैसा लगेगा जब आप अपना फेसबुक खाता खोलें और आपकी टाइम लाइन पर एक पोर्न तस्वीर या पोर्न वीडियो की लिंक दिखाई दे। आपको यह भी पता चले कि यह काम आपके ही किसी फेसबुक मित्र का है जो बहुत ही सभ्य और जिम्मेदार किस्म का है। अवश्य ही आपके दिमाग में आपके उस फेसबुक मित्र की छवि मलिन होजायेगी। और अगर आपने अपना फेसबुक खाता कई दिनों से खोला ही नहीं है परन्तु आपके पास परिचितों और मित्रों के फोन आएं कि आपने पोर्न पिक्चर या वीडियो पोस्ट किया तो किया परन्तु आपने हमें टैग क्यों किया।
Facebook tagging scam
Facebook tagging scam


दोनों ही स्थितिओं में आपकी हालत दयनीय होजायेगी जबकि आपने ऐसा कुछ किया ही नहीं है। जी हाँ आजकल बहुत से बेक़सूर लोगों के साथ हो रहा है जो फेसबुक काम में लेते हैं। यह सब फेसबुक पर मैलवेयर के हमले के कारण हो रहा है। इस मैलवेयर के कारण आपत्तिजनक तस्वीरें और वीडियो फेसबुक उपयोग कर्ताओं की टाइम लाइन पर स्वतः अपलोड हो रहे हैं और स्वतः ही उनके दूसरे मित्र भी टैग हो रहे हैं। अपलोड करने वाले और टैग किए जाने वाले किसी भी उपयोग कर्ता को इसकी जानकारी तभी मिलती है जब अपना खता देखते हैं।

इस मैलवेयर के शिकार होने के अन्य नुकसान

  1. जब भी हम कोई ऑनलाइन वीडियो देखे हैं तो हमारा फ़्लैश प्लेयर(शोक वेव फ़्लैश) स्वत; हरकत में आ जाता है। अगर यह  मैलवेयर हमारे कंप्यूटर में है तो यह अवश्य ही आपके फ़्लैश प्लेयर(शोक वेव फ़्लैश) को ख़राब कर देगा।
  2. यह मैलवेयर आपके सिस्टम पर इस तरह की फाइलें बना देता है -
  3. c:\documents and settings\administrator\application data\microsoft\protect\S-1-5-21-117609710-1801674531-725345543-500\preferred
  4. c:\documents and settings\administrator\application data\microsoft\protect\s-1-5-21-1844237615-2111687655-839522115-500\4532158e-ef11-42f9-813c-ddbb4f02c848
  5. ये फाइलें अन्य साइबर अपराधियों को बैक डोर उपलब्ध करा देती हैं।
  6. यह मैलवेयर ब्राउज़र में हिडन एक्सटेंशन बना देता है तथा यह हिडन एक्सटेंशन सभी सिक्योरिटी वेबसाइट ब्लॉक कर देता है।
  7. हिडन एक्सटेंशन के जरिये यह मैलवेयर स्वतः अपडेट होता रहता है।
  8. हिडन एक्सटेंशन के जरिये यह मैलवेयर सभी फेसबुक मित्रों के सिस्टम भी संक्रमित कर देता है।

इस मैलवेयर के शिकार होने के कारण

  1. निम्न लिखित में से कोई भी क्रियाकलाप आपके इस मैलवेयर के शिकार होने के कारण हो सकता है -
  2. फेसबुक पर किसी अंजान लिंक पर क्लिक करना।
  3. फेसबुक पर कोई ऑनलाइन वीडियो डाउनलोड करना।
  4. फेसबुक पर कोई ऑनलाइन वीडियो शेयर करना।
  5. फेसबुक से  कोई ऑनलाइन वीडियो डाउनलोड करना और इसे अपने सिस्टम/मोबाइल पर सेव करना
  6. फेसबुक पर कोई गेम खेलना।
  7. फेसबुक पर कोई फन एप्लीकेशन उपयोग करना।
  8. फेसबुक पर अधिक फोटो, लिंक और वीडियो शेयर करना।

इस मैलवेयर के शिकार होने से बचने के उपाय

  1. इस मैलवेयर से बचने के लिए ऊपर दी गयी सभी गतिविधियों से बचें। 
  2. इसके अतिरिक्त निम्न कार्यवाही तुरंत करें -
  3. अपने फेसबुक खाते में जाएँ।
  4. सबसे दाहिनी तरफ लॉगआउट पर क्लिक करें।
  5. अब जो लिस्ट खुलती है उसमें से सेटिंग(Setting) पर क्लिक करें।
  6. अब बाईं तरफ टाइम लाइन और टैगिंग(Timeline and Tagging) पर क्लिक करें।
  7. अब जो स्क्रीन खुलेगा उसमें आपको एक विकल्प दिखाई देगा "Review posts that friends tag you in before they appear on your Timeline?". इसके दाहिनी तरफ "एडिट" पर क्लिक करें।
  8. अब आपको डिसेबल्ड(Disabled) दिखाई देगा।
  9. अब आप ड्राप डाउन(Dropdown) पर क्लिक कर के इसे इनेबल(Enable) कर दें।
  10. अब आपको कोई स्वचालित सॉफ्टवेयर तथा आपके मित्र भी आपकी अनुमति बिना कभी भी टैग नहीं कर सकेंगे।
  11. इस तरह दूसरों द्वारा आपको बार बार टैग किये जाने की समस्या भी समाप्त हो जाएगी।



Reactions:

19 comments:

  1. yeh to bahut hee khatarnak aur muft men image kharab karane wala virus hai.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thanks for the comment ,I appreciate your support Mr. Bajtang Lal.

      Delete
  2. The information provided here is very useful

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thanks for the comment ,I appreciate your support r. s.dan

      Delete
  3. The tips are very useful. face is infected with many dangerous virus but the owners don't care.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thanks for the comment ,I appreciate your support Mr. Bajtang Lal.

      Delete
  4. If such a thing really happens, one becomes hopeless without his fault. facebook must avoid such danger.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thanks for the comment ,I appreciate your support Dr. Bhupathi.

      Delete
  5. It's interesting that many of the bloggers to helped clarify a few things for me as well as giving.Most of ideas can be nice content.The people to give them a good shake to get your point and across the command .

    ccna training in chennai saidapets

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thanks for the comment ,I appreciate your support Mr. Abjya Carol.

      Delete
  6. this technique will be really useful and it is very much interested thus it has many more options which are really awesome.



    salesforce Training instiute in Chennai

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thanks for the comment ,I appreciate your support Miss Deeksha.

      Delete
  7. Facebook is not at all interested in the user interests, they are responsible for and they must look into such matters

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thanks for the comment ,I appreciate your support Mr. Anshu Rao.

      Delete
  8. You can judge the negligence and carelessness of fecebook administration in respect of users interest.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thanks for the comment ,I appreciate your support Mr. Kamalesh Saini.

      Delete
  9. I am reading your post from the beginning, it was so interesting to read & I feel thanks to you for posting such a good blog, keep updates regularly..

    Android Training in Chennai

    ReplyDelete
  10. Wonderful blog.. Thanks for sharing informative blog.. its very useful to me..

    iOS Training in Chennai

    ReplyDelete